AYE AJNABI TU BHI KABHI AAWAZ DE KAHI SE @Dil Se:

AYE AJNABI TU BHI KABHI AAWAZ DE KAHI SE Hindi Lyrics #Udit Narayan @Dil Se

Song Credits:
Song: Aye Ajnabi;
Movie: Dil Se;
Lyricist: Gulzar;
Singer: Udit Narayan;

Hindi Lyrics:
ऐ अजनबी तू भी कभी

आवाज़ दे कहीं से

ऐ अजनबी तू भी कभी

आवाज़ दे कहीं से

मैं यहाँ टुकड़ों में जी रहा हूँ

मैं यहाँ टुकड़ों में जी रहा हूँ

तू कहीं टुकडो में जी रही है

ऐ अजनबी तू भी कभी

आवाज़ दे कहीं से

ऐ अजनबी तू भी कभी

आवाज़ दे कहीं से

रोज़ रोज़ रेशम सी हवा

आते जाते कहती है बता

रेशम सी हवा कहती है बता

वो जो दूध-धूली मासूम कली

वो है कहाँ कहाँ है

वो रौशनी कहाँ है

वो जान-सी कहाँ है

मैं अधूरा, तू अधूरी, जी रही है

ऐ अजनबी तू भी कभी

आवाज़ दे कहीं से

ऐ अजनबी तू भी कभी

आवाज़ दे कहीं से

मैं यहाँ टुकड़ों में जी रहा हूँ

मैं यहाँ टुकड़ों में जी रहा हूँ

तू कहीं टुकडो में जी रही है

ऐ अजनबी तू भी कभी

आवाज़ दे कहीं से

ऐ अजनबी तू भी कभी

आवाज़ दे कहीं से

तू तो नहीं है लेकिन

तेरी मुस्कुराहटें है

चेहरा कही नहीं है पर

तेरी आहटें है

तू है कहाँ कहाँ है

तेरा निशान कहाँ है

मेरा जहाँ कहाँ है

मैं अधूरा, तू अधूरी, जी रही है

ऐ अजनबी तू भी कभी

आवाज़ दे कहीं से

ऐ अजनबी तू भी कभी

आवाज़ दे कहीं से

मैं यहाँ टुकड़ों में जी रहा हूँ

मैं यहाँ टुकड़ों में जी रहा हूँ

तू कहीं टुकडो में जी रही है

ऐ अजनबी तू भी कभी

आवाज़ दे कहीं से

ऐ अजनबी तू भी कभी

आवाज़ दे कहीं से

English Lyrics:

Aye Ajnabi Tu Bhi Kabhi
Aawaaz De Kahin Se
Aye Ajnabi Tu Bhi Kabhi
Aawaaz De Kahin Se
Main Yahan Tukdon Mein Jee raha hoon
Main Yahan Tukdon Mein Jee Raha Hoon
Tu Kahin Tukdon Mein Jee Rahi Hai
Aye Ajnabi Tu Bhi Kabhi Aawaaz De Kahin Se

Roj Roj Resham Si Hawa
Aate Jaate Karti Hai Bata
Resham Si Hawa kahati Hai Bata
Wo Jo Doodhwali Masoom Kali
Wo Hai Kahan kahan hai
Wo Roshni Kahan Hai
Wo Jaansi kahan hai

Mai Adhura Tu Adhuri
Jee Rahi Hai

Aye Ajnabi Tu Bhi Kabhi
Aawaaz De Kahin Se
Aye Ajnabi Tu Bhi Kabhi
Aawaaz De Kahin Se
Main Yahan Tukdon Mein Jee Raha Hoon.
Main Yahan Tukdon Mein Jee Raha Hoon
Tu Kahin Tukdon Mein Jee Rahi Hai
Aye Ajnabi Tu Bhi Kabhi Aawaaz De Kahin Se
Aye Ajnabi Tu Bhi Kabhi Awaaz De Kahin Se

Tu To Kahi Nahi Hai Lekin
Teri Muskurahate Hain
Chehra Kahin Nahin Hai Par
Teri Aahatein Hain
Tu Hai Kahan kahan Hai
Tera Nishan Kahan Hai
Mera Jahan Kahan Hai
Main Adhura Tu Adhuri Jee Rahi Hai

Aye Ajnabi Tu Bhi Kabhi
Aawaaz De Kahin Se
Aye Ajnabi Tu Bhi Kabhi
Aawaaz De Kahin Se
Main Yahan Tukdon Mein Jee Raha Hoon.
Main Yahan Tukdon Mein Jee Raha Hoon
Tu Kahin Tukdon Mein Jee Rahi Hai
Aye Ajnabi Tu Bhi Kabhi Aawaaz De Kahin Se
Aye Ajnabi Tu Bhi Kabhi Awaaz De Kahin Se

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.