GUSTAKH DIL @English Vinglish:

GUSTAKH DIL Song Hindi Lyrics #Shilpa Rao @English Vinglish:

Song Credits:

Song: Gustakh Dil;

Movie: English Vinglish;

Lyricist: Swanand Kirkire;

Singer: Shilpa Rao;

Music Label: Eros Now;

Hindi Lyrics:

गुस्ताख दिल,

दिल में मुश्किल

मुश्किल में दिल,

मुश्क़िल में दिल

गुस्ताख दिल

थोड़ा सम्भल

थोड़ा बुज़दिल

दर्द के दर पे ठहरा है क्यों

सज़ाएं सज़ाएं ये

खुद को क्यूँ देता नही

हंसने की धुन में

रोता है क्यों

सही क्या ग़लत क्या

ये कुछ भी समझता नहीं

गुस्ताख दिल, दिल में मुश्किल

मुश्किल में दिल, गुस्ताख दिल

है बर्फ सी, साँसों में

आँखों में धुंआ धुंआ

धुंआ धुंआ

ये हर पल क्यूँ खेले है

ग़म का खुसी का जुआ जुआ

ये उम्मीदों भरा

ये खुद से ही डरा

सुलझे धागो में

उलझा है क्यों

सलाहे सलाहे ये खुद की

भी सुनता नहीं

गुस्ताख दिल

दिल में मुश्किल

मुश्किल में दिल

हो गुस्ताख दिल

क्यूँ बातों ही, बातों में

फिसलती है जुबां जुबां

जुबां जुबां

किसी शदा, ठहरती है

बहकती है निगाह निगाह

ये कैसे कब हुआ हाँ हाँ

ये कह दो क्यूँ हुआ

गिरता नहीं तो, संभालता है क्यों

झुकाये झुकाये मग़रूर झुकता नहीं

गुस्ताख दिल

दिल में मुश्किल

मुश्किल में दिल गुस्ताख दिल.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.