RIM JHIM GIRE SAAWAN Hindi Lyrics:

RIM JHIM GIRE SAAWAN Song Hindi Lyrics #Kishore Kumar, Lata Mangeshkar @Manzil

Song Credits:

Song: Rim Jhim Gire Saawan;
Movie: Manzil;
Singers: Kishore Kumar, Lata Mangeshkar;
Lyricist: Yogesh;

Hindi Lyrics:

रिमझिम गिरे सावन
सुलग सुलग जाए मन
भीगे आज इस मौसम में
लगी कैसी ये अगन

रिमझिम गिरे सावन
सुलग सुलग जाए मन
भीगे आज इस मौसम में
लगी कैसी ये अगन

जब घुंघरूओं सी
बजती है बूंदें
अरमा हमारे पलके न मूदे

जब घुंघरूओं सी
बजती है बूंदें
अरमा हमारे पलके न मूदे

कैसे देखे सपने नयन
सुलग सुलग जाए मन

भीगे आज इस मौसम में
लगी कैसी ये अगन

रिमझिम गिरे सावन
सुलग सुलग जाए मन
भीगे आज इस मौसम में
लगी कैसी ये अगन

महफिल में कैसे
कह दे किसी से
दिल बंध रहा है
इक अजनबी से

महफिल में कैसे
कह दे किसी से
दिल बंध रहा है
इक अजनबी से

हाय करें अब क्या जतन
सुलग सुलग जाए मन

भीगे आज इस मौसम में
लगी कैसी ये अगन

रिमझिम गिरे सावन
रिमझिम गिरे सावन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.